Mutual Fund :म्यूचुअल फंड में क्या फायदा है?

mutual fund kya hai ? types of mutual funds in hindi mutual fund kya hai ?

म्यूच्यूअल फंड एक तरह का फंड होता है जिसमें बहुत से लोग निवेश करते हैं म्यूच्यूअल फंड भी कुछ कुछ RD और FD के जैसा होता है।

Mutual Fund :म्यूचुअल फंड में क्या फायदा है?

mutual fund kya hai ?

म्यूच्यूअल फंड एक तरह का फंड होता है जिसमें बहुत से लोग निवेश करते हैं म्यूच्यूअल फंड भी कुछ कुछ RD और FD के जैसा होता है। लेकिन जहां दूसरे फंड में लोगों को ज्यादा सिक्योरिटी मिलती है वही म्युचुअल फंड में सिक्योरिटी थोड़ी कम रहती है। हां यह बात अलग है कि म्यूच्यूअल फंड में दूसरे फंड के मुकाबले रिक्स थोड़ा ज्यादा रहता है म्यूच्यूअल फंड में जितना ज्यादा रिक्स होता है उतना ही ज्यादा रिटर्न भी मिलता है। इसीलिए आज करोड़ों की संख्या में लोग म्यूच्यूअल फंड में निवेश करते हैं। म्यूच्यूअल फंड बी बैंक के तरह ही पूरी तरह सुरक्षित है क्योंकि इसका पूरा नियंत्रण सिक्योरिटी एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया यानी कि सेबी के पास होता है।



म्यूच्यूअल फंड कितने तरह के होते हैं ?

संरचना के अनुसार म्यूच्यूअल फंड निम्न तरह के होते हैं -

•ओपन एंडेड स्कीम
•क्लोज्ड एंडेड स्कीम
•इंटरवल स्कीम

Assets के अनुसार म्यूच्यूअल फंड निम्न तरह के होते हैं -

Equity fund
Debt fund
Mini Market liquid fund

म्यूचुअल फंड के फायदे क्या है ?

म्यूचुअल फंड में निवेश करने से भारी रिटर्न प्राप्त होता है।

म्यूचुअल फंड में कई अलग-अलग तरह की योजनाएं मिलती हैं।

म्यूचुअल फंड में लिक्विडिटी यानि जब चाहें तब पैसे निकालने की सुविधा होती हैं।

छोटे अमाउंट में इन्वेस्ट करने की सुविधा।

म्यूचुअल फंड में निवेश करना काफी आसान होता है।

म्यूचुअल फंड के नुकसान क्या है ?

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के जहां कुछ फायदे हैं तो वहीं कुछ नुकसान भी है -

म्यूचुअल फंड में रिस्क बहुत ज्यादा होता है।

शेयर मार्केट की जानकारी के अभाव में पैसे डूबने के बहुत ज्यादा चांस होते हैं।

म्यूचुअल फंड में लॉकइन पीरियड भी होता है उसमें पैसे निवेश कर देना सिर्फ जरूरत के समय पैसे निकालने में तकलीफ होती है। ‌

म्यूचुअल फंड में निवेश करने से ब्रोकर को भी फीस देना पड़ता है।

म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें ?

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के बहुत से तरीके होते हैं जहां पहले म्यूचुअल फंड में निवेश करना मुश्किल होता था वही आज ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से निवेश करना बहुत ही ज्यादा आसान हो गया है। Mutual फंड में निवेश करने के लिए आप ET Money App, Groww App, My CAMS App जैसे एप्लिकेशन का उपयोग कर सकते हैं।

Mutual फंड में इन्वेस्ट करके टैक्स कैसे बचाया जा सकता है ?

अगर आपको ऐसा लगता है कि आपका कमाया हुआ ज्यादातर पैसा टैक्स भरने में चला जाता है तो बता दें म्यूच्यूअल फंड अपने निवेशकों को टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड की भी सुविधा देता है इसके अंतर्गत निवेशक 3 साल के लिए अपना पैसा म्युचुअल फंड में इन्वेस्ट कर देता है इन 3 सालों में निवेशक Mutual फंड से अपना पैसा बाहर नहीं निकाल सकते हैं।

क्योंकि इस दौरान निवेशक का पैसा लॉकइन इन होता है लेकिन जब लॉकइन का पीरियड खत्म हो जाता है तब निवेशक अपना पैसा वापस प्राप्त कर सकते हैं भारत में बहुत से ऐसे लोग हैं जो इस तरीके को अपनाकर अपना पैसा बचाते हैं।

म्यूचुअल फंड में कौन-कौन से तरीकों से इन्वेस्टिंग की जा सकती है ?

म्यूच्यूअल फंड की सबसे अच्छी बात यह है कि म्यूच्यूअल फंड में दो तरह से इन्वेस्टिंग की जा सकती हैं पहले तरीके में आप एक बार में सारा पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं और दूसरे व सबसे पॉपुलर तरीका है SIP।

इसके अंतर्गत आप हर महीने इंस्टॉलमेंट के तरह Mutual फंड में अपने पैसे इन्वेस्ट कर सकते हैं। लंबे समय तक compounding effect का फायदा लेने के लिए ज्यादातर निवेशक Mutual फंड में पैसा इन्वेस्ट करने के लिए दूसरा तरीका ही चुनते हैं। जिससे अच्छे खासे समय के बाद निवेशकों को काफी भारी लाभ मिलता है।