UP Agricultural Machinery On Subsidy:किसान पंजीकरण कराकर 50% तक अनुदान पर कृषि यंत्र और 40% अनुदान पर

कृषि क्षेत्रों में जैसे-जैसे किसान नई तकनीकों की तरफ रूख कर रहे हैं, वैसे-वैसे खेती-किसानी में कृषि यंत्रों की मांग भी बढ़ती जा रही है. आज के दौर में बिना कृषि यंत्रों के खेती की कल्पना ही नहीं की जा सकती है. इसी को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों को सस्ती दर पर कृषि यंत्र एवं कस्टम हायरिंगसेंटर मण्डलवार पंजीकरण की सुविधा दे रही है.

UP Agricultural Machinery On Subsidy:किसान पंजीकरण कराकर 50% तक अनुदान पर कृषि यंत्र और 40% अनुदान पर

प्रदेश के किसान जनपदवार निर्धारित तिथि को पंजीकरण कराकर 50% तक अनुदान पर कृषि यंत्र और 40% अनुदान पर कस्टम हायरिंग सेंटर प्राप्त कर सकते हैं. इसके लिएउन्हें दस हजार रुपए तक के अनुदान वाले कृषि यंत्रों के कोई जमानत राशि नहीं जमा करनी होगी. दस हजार रुपए से एक लाख रुपए तक अनुदान वाले कृषि यंत्रों के कोई जमानत राशि नहीं जमा करनी होगी. दस हजार रुपए से एक लाख रुपए तक अनुदान वाले कृषि यंत्रों के लिए 2500 जमा करना होगा. जबकि एक लाख रुपए से अधिक अनुदान
अनुदान व कस्टम हायरिंग सेंटर के लिए 5000 रुपए जमा करना होगा.

प्रदेश सरकार द्वारा किसानों को सस्ती दर पर कृषि यंत्र एवं कस्टम हायरिंग सेंटर सुलभ कराने हेतु मण्डलवार पंजीकरण की सुविधा दी जा रही है।

प्रदेश के किसान भाई जनपदवार निर्धारित तिथि को पंजीकरण कराकर50% तक अनुदान पर कृषि यंत्र और40% अनुदान पर कस्टम हायरिंग सेंटर प्राप्त कर सकते हैं। pic.twitter.com/UitSZNyR0V