My Kisan Hindi Blog

  • Admin

Jio phone के ऑपरेटिंग सिस्टम KaiOS ने मचाई धूम,


Jio रिलायंस ने एक ऐसी उपलब्धि हासिल की है जिसके सामने एप्पल के ios के भी कदम छोटे पड़ गए है | दर असल अब दुनिया मे तहलका मचाया है Kaios आपरेटिंग सिस्टम ने जिस पर जियो का फोन चलता है 

रिलायंस जियो ने चार साल पहले टेलिकॉम बाजार में कदम रखा था तब से लेकर कंपनी लगातार रिकार्ड बनाती जा रही है फिर चाहे कस्टमर जुटाने की बात हो या फिर एक झटके में करोड़ों जियो फोन की बिक्री हो रिलायंस ने हमेसा दुनिया को चौकाया है अब रिलायंस ने एक ऐसी उपलब्धि हासिल की है जिसके सामने एप्पल भी बौना नजर आ रहा है दर असल अब दुनिया में तहलका मचाया है उस ऑपरेटिंग सिस्टम ने जिस पर जियो फोन चलता है। हम बात कर रहे हैं जियो फोन में चलने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम KaiOS की। इस ऑपरेटिंग सिस्टम ने भारत में ऐपल के ios को पछाड़ते हुए ऐंड्रॉयड के बाद दूसरा स्थान हासिल कर लिया है।मार्केट इंटेलिजेंस फर्म डिवाइस एटलस के ताजा सर्वे के अनुसार KaiOS ने मात्र एक साल में ही 15 फीसदी मार्केट पर कब्जा कर लिया है। बता दें कि अपने लॉन्च के बाद रिलायंस का जियोफोन तेजी से मार्केट में काफी लोकप्रिय हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, कुल 15 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ KaiOS भारत में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला दूसरा ऑपरेटिंग सिस्टम है। KaiOS के बाद तीसरे स्थान पर एप्पल का आईओएस है। जिसका मार्केट शेयर 9.6 प्रतिशत है। हालांकि ऐंड्रॉयड 70 प्रतिशत शेयर के साथ अभी भी भारतीय मार्केट में राज कर रहा है।




जियो का इतिहास

रिलायंस जिओ एक मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर है , जिसेभारत की रिलायंस इंडस्ट्री ने शुरू किया है। यह भारत का सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क है | इसकेसाथ ही यह पूरे विश्व में छठे स्थान पर आता है। वर्तमान में जिओ के 306 मिलियन से भी ज्यादा सब्सक्राइबर हैं।

जिओ की कंपनी को पहले 15 फरवरी 2007 में रिलायंस जियो इन्फ़ोकॉम लिमिटेड के रूप में अहमदाबाद में पंजीकृत किया गया था। जिसके बाद इस कंपनी ने RIL की दूरसंचार कंपनी के रूप में काम किया। फिर कुछ सालों बाद 2013 में रिलायंस जियो इन्फ़ोकॉम लिमिटेड के रूप में नाम दिया गया।

जिओ के मालिक मुकेश धीरुभाई अंबानी है। इसका हेड क्वार्टर मुंबई में स्थित है। इसके साथ ही इस कंपनी के कुछ और प्रमुख व्यक्ति हैं। संजय मशरू-वाला (Managing Director), ज्योतिंद्र ठाकर(आईटी प्रमुख) , आकाश अंबानी (रणनीति प्रमुख) |

जिओ ने ही भारत में 4G LTE सर्विस और voice over LTE सर्विस की शुरूआत की है। जिओ , सर्विस को सभी उपभोक्ताओं के लिए 5 सितंबर 2016 कोलॉन्च किया गया था।

रिलायंस ने धीरूभाई अंबानी की 83rd बर्थ एनिवर्सरी में इस Offer की शुरुआत की थी। धीरूभाई अंबानी रिलायंस के Founder है , इन्होंने ही रिलायंस इंडस्ट्री की शुरुआत की थी।

Jio का फूल फार्म

क्या आप जिओ का Full Form जानते हैं , अगर नहीं तो आज यह भी जान लीजिए jio का फुल फॉर्म है “ Joint Implementation Opportunities ”.

Jio भारत को छोड़कर और किन देशों में कम करता है ?

आपको यह जानकर गर्व महसूस होगा , कि जियो एक भारतीय कंपनी है। इसका नेटवर्क इतने दूर तक फैला हुआ है कि यह भारत के अलावा 9 और देशों में भी काम करता है। इन 9 देशों में US,Uk, चाइना और सिंगापुर प्रमुख है। जियो रिलायंस जियो इन्फोकोम्म लिमिटेड ,एक भारतीय mobile network operator है ।ये भारत का सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क है वहीं पूरे विश्व में ये छठे स्थान में आता है वहीं इसके पास 306 million subscribers मौजूद हैं