Kisan Rath Mobile App"किसान रथ"

अपडेट किया गया: अप्रै. 29

लॉकडाउन के दौरान गेहूं की कटाई और मड़ाई के बाद उपज को मंडियों तक ले जाने वाली दिक्कतों को दूर करने के लिए ‘किसान रथ’ नामक मोबाइल एप लांच किया गया है। इसके मार्फत किसान अपने मोबाइल एप से ट्रक, ट्रैक्टर और अन्य कृषि मशीनरी किराये पर बुलाकर सकता है। यह मोबाइल एप कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लांच किया। किसान रथ एप पर फिलहाल कुल 5.7 लाख ट्रक उपलब्ध हैं, जिन्हें किसान अपनी जरूरत के हिसाब से बुक कर सकते हैं। बुक करते समय ही ट्रांसपोर्टर से किराया, लोडिंग और अनलोडिंग के बारे में मोलभाव किया जा सकता है। 



इस एप के जरिए किसान अपनी किसी भी उपज को अपनी जरूरत के हिसाब से संबंधित मंडियों में भेज सकता है। इसके अलावा किसान रथ एप पर कस्टम हायरिंग सेंटर भी दर्ज है। इसके मार्फत खेती की अन्य जरूरतों के लिए मशीनरी भी बुक की जा सकती है। एप पर 14 हजार से अधिक कस्टम हायर सेंटरों (सीएचसी) के 20 हजार से अधिक ट्रैक्टर भी रजिस्टर्ड हैं। इससे किसानों के साथ ट्रांसपोर्टरों को भी काम मिलेगा, जिसका दोनों पक्ष फायदा उठा सकते हैं 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana Online

नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर (NIC) ने इस एपलिकेशन को डेवलप किया है। इसका लक्ष्य ऐसे किसानों और कारोबारियों को मदद करना है, जो कृषि उत्पादों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए वाहनों की तलाश में हैं। इस एप के जरिए किसान अपनी फसल को मंडियों, स्थानीय वेयरहाउस या कलेक्शन सेंटर तक ले जाने के लिए वाहन बुक कर सकते हैं। 


#कृषि मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि यह किसानों और कारोबारियों के लिए प्रतिस्पर्धी रेट और समय पर ट्रांसपोर्टेशन सर्विस उपलब्ध कराए जाने की दिशा में उठाया गया कदम है।  

इस एपलिकेशन को 'Google Play Store' से डाउनलोड किया जा सकता है।