top of page

PM Awas Yojana:पीएम शहरी आवास योजना का क्या है उद्देश्य?

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना का शुभारम्भ 25 जून 2015 को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश के शहरी इलाको के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग,निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आयवर्ग के गरीब परिवार जिनके पास खुद का घर नहीं या कच्चे घर है उन्हें स्वयं का पक्का मकान उपलब्ध कराने के लिए ऋण उपलब्ध कराया जायेगा |


PM Awas Yojana

pmaymis.gov.in shahri



  1. पीएम शहरी आवास योजना का क्या है उद्देश्य? इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के शहरी गरीब लोगों, जिनके पास रहने के लिए पक्का घर नहीं है या वह बेघर है, उन्हें सरकार द्वारा पक्के घर की सुविधा उपलब्ध कराना है। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार का लक्ष्य वर्ष 2022 तक प्रत्येक पात्र परिवार को स्वंय का घर उपलब्ध कराना है। तब तक गरीब वर्गों के लिए 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है। सरकार बिल्डरों की सहायता से चुनिन्दा शहरों में पक्के घरों का निर्माण करने की कोशिश कर रही है। इस योजना के तहत प्रदान किए गए घरों को एक वयस्क महिला सदस्य या पुरुषों के साथ संयुक्त रूप से स्वामित्व किया जाएगा।


  2. कौन हुए हैं इस योजना में शामिल? प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट के अंतर्गत उन लाभार्थियों को शामिल किया गया है जिन्होंने हाल ही में गत वर्ष प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन किया था। केंद्र सरकार द्वारा लाभार्थियों के सभी दस्तावेजों का सत्यापन कर प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में उनका नाम सम्मिलित किया गया है। देश का कोई भी निवासी, जिसने PMAY के अंतर्गत आवेदन किया हैए वह आसानी से पीएमएवाई सूची में अपना नाम खोज सकता है।


  3. कितनी मिलती है सहायता? जिन लाभार्थियों का नाम पीएमएवाई शहरी सूची में सम्मिलित होगा, उन्हें केंद्र सरकार द्वारा पहली बार स्वयं का घर खरीदने पर 2.35 लाख रुपये से लेकर 2.50 लाख रुपये तक की ब्याज दरों पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा निम्न आय वर्गो के लिये योजना के अन्तर्गत 6 लाख रुपये तक का ऋण 20 साल की अवधि के लिये उपलब्ध कराया जायेगा तथा योजना के अन्तर्गत 6.50 प्रतिशत यानी 2.67 लाख रुपये की सब्सिडी देय ऋण पर उपलब्ध करायेगी। एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप के व्यक्तियों को 20 साल के लोन पर 4 फीसदी तथा 3 फीसदी की ब्याज सब्सिडी प्रदान की जाएगी। कुल मिलाकर एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप को 2.35 लाख रुपये और 2.30 लाख रुपये की सब्सिडी उपलब्ध करा रही है।


  4. प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट के अंतर्गत इनकम कैटेगरी क्या है? प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत तीन कैटेगरी के लोगों को लोन दिया जाता है। यह कैटेगरी लोगों के सालाना आय के हिसाब से निर्धारित की जाती है। आर्थिक कमजोर वर्ग: आर्थिक कमजोर वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं, जिनकी सालाना आय 3,00,000 रुपये या फिर उससे कम है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग के लोगों को लोन प्रदान किया जाता है।निम्न आय वर्ग: निम्न आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय 3,00,000 रुपये से 6,00,000 ुपये तक है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निम्न आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है।मध्य आय वर्ग: मध्य आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय 6,00,000 रुपये से 18,00,000 तक है। PM Awas Yojana के अंतर्गत मध्य आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है।


प्रधानमंत्री आवास योजना की वेबसाइट क्या है?

प्रधानमंत्री आवास योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 2023 PMAY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं PMAY की आधिकारिक वेबसाइट, यानी http://pmaymis.gov.in पर जाएं।


प्रधानमंत्री आवास योजना में लिस्ट कैसे देखें?

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) में अपना नाम कैसे करें चेक, ये है पूरी डिटेल

PMAY शहरी लिस्ट इसमें सबसे पहले आपको https://pmaymis.gov.in पर विजिट करना होगा।


प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?

दस्‍तावेज का प्रकार

  • वोटर कार्ड

  • आधार कार्ड

  • वैध पासपोर्ट

  • ड्राइविंग लाइसेंस

  • फोटोयुक्त क्रेडिट कार्ड

  • सरकारी निकाय द्वारा जारी किया गया फोटोयुक्त पहचान पत्र

  • मान्‍यताप्राप्त लोक अधिकारी या लोक सेवक द्वारा ग्राहक के फोतोहुक्त पहचान का सत्यापन (30 दिन से पुरानी नहीं हो)

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए कौन पात्र है?

ईडब्‍लूएस (निम्न आर्थिक वर्ग) के लिए सालाना घरेलू आमदनी 3.00 लाख रुपये तय है. एलआईजी (कम आय वर्ग) के लिए सालाना आमदनी 3 लाख से 6 लाख के बीच होनी चाहिए. सालाना 12 और 18 लाख रुपये तक की आमदनी वाले लोग भी पीएमएवाई का लाभ उठा सकते हैं

Comentarios


bottom of page