top of page

Sukanya Samriddhi Yojana:बेटियों की शिक्षा और विवाह के लिए एक सुनहरा निवेश

Sukanya Samriddhi Yojana:लाभ, ब्याज दर, ऑनलाइन आवेदन, नियम, योग्यता, और जमा राशि की पूरी जानकारी

सुकन्या समृद्धि योजना, जिसे "Sukanya Yojana" भी कहा जाता है, एक सरकारी योजना है जो भारत सरकार द्वारा बेटियों के भविष्य को सुरक्षित और बेहतर बनाने के लिए शुरू की गई एक बचत योजना है। यह योजना 10 वर्ष से कम आयु की बालिकाओं के लिए उपलब्ध है। योजना के तहत, माता-पिता या कानूनी अभिभावक बालिका के नाम पर अकाउंट खोल सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY): लाभ, ब्याज दर, ऑनलाइन आवेदन, नियम, योग्यता, और जमा राशि की पूरी जानकारी

कैसे खुलवाएं Sukanya Samriddhi Yojana खाता?

Sukanya Samriddhi Yojanaके तहत एकाउंट किसी गर्ल चाइल्ड के जन्म लेने के बाद 10 साल से पहले की उम्र में कम से कम 250 रुपये के जमा के साथ खोला जा सकता है. चालू वित्त वर्ष में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कराये जा सकते हैं.


कहां खुलेगा सुकन्या समृद्धि योजना खाता?

Sukanya Samridhi Yojana के तहत एकाउंट किसी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत शाखा में खोला जा सकता है.


  • योजना के आवेदन फॉर्म को विभिन्न स्रोतों से डाउनलोड किया जा सकता है।

  • इंडियन पोस्ट की वेबसाइट से।

  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की अलग-अलग वेबसाइट जैसे कि BOB, SBI, PNB, आदि

  • भारतीय रिजर्व बैंक की वेबसाइट से

  • निजी क्षेत्र के बैंकों की वेबसाइट से जैसे Axis, HDFC, ICICI इत्यादि।

कब तक चलाना होगा सुकन्या समृद्धि योजना खाता?

सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के बाद यह गर्ल चाइल्ड के 21 साल के होने या 18 साल की उम्र के बाद उसकी शादी होने तक चलाया जा सकता है.


क्या है सुकन्या समृद्धि योजना का उपयोग?

सुकन्या समृद्धि योजना खाते से 18 साल की उम्र के बाद बच्चे की उच्च शिक्षा के लिए खर्च के मामले में 50 फीसदी तक रकम निकाली जा सकती है.


सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के नियम

इस योजना के तहत 10 साल से कम उम्र की लड़की के माता - पिता या कानूनी अभिभावक उसके नाम पर खाता खोल सकते हैं। खाता किसी डाकघर शाखा या अधिकृत सरकारी बैंक की शाखा में खोला जा सकता है। इस खाते में जमा और परिपक्वता राशि पर आयकर कानून की धारा 80 सी के तहत कोई टैक्स नहीं लगता। नए नियमों के हिसाब से इस खाते में न्यूनतम 250 रुपये जमा कराने की जरूरत होगी। एक साल में इस खाते में अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा किए जा सकते हैं। यह खाता 21 साल तक की अधिकतम अवधि के लिए होता है।

खाता खोलने के लिए ये दस्तावेज जरूरी हैं

1.सुकन्‍या समृद्धि अकाउंट खोलने का फॉर्म। 2.बच्‍ची का जन्‍म प्रमाण पत्र।3.बच्ची के माता-पिता या अभिभावक का पहचान पत्र जैसे (पैन कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि)।4.बच्ची के माता-पिता या अभिभावक के पते का प्रमाण पत्र (पासपोर्ट, राशन कार्ड, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, पानी का बिल) 5.SSY का फॉर्म आप पोस्‍ट ऑफिस या बैंक से ले सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम खाता खोलने के दिन से 15 साल तक जमा कराया जा सकता है. 9 साल की किसी बच्ची के मामले में जब वह 24 साल की हो जाये तब तक रकम जमा कराई जा सकती है. बच्ची के 24 से 30 साल के होने तक जब सुकन्या समृद्धि योजना खाता मैच्योर हो जाये, उसमें जमा रकम पर ब्याज मिलता रहेगा.


सुकन्या समृद्धि योजना में रकम जमा नहीं हो पाई तब?

किसी अनियमित सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट में जहां कम से कम रकम जमा नहीं हुई है, उसे 50 रुपये सालाना की


सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम जमा कैसे होगी?


सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट या किसी ऐसे इंस्ट्रूमेंट से भी जमा कराई जा सकती है जिसे बैंक स्वीकार करता हो. इसके लिए रकम जमा करने वाले का नाम और एकाउंट होल्डर का नाम लिखना जरूरी है. सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर मोड से भी की जा सकती है, अगर उस पोस्ट ऑफिस या बैंक में कोर बैंकिंग सिस्टम मौजूद है. अगर सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम चेक या ड्राफ्ट से चुकाई गयी तो रकम खाते में क्लियर होने के बाद से उस पर ब्याज दिया जायेगा, जबकि ई-ट्रांसफर के मामले में डिपॉजिट के दिन से यह गणना की जाएगी.


Sukanya Samriddhi Yoajan ka interest rate kya hai
Sukanya Samriddhi Yoajan से मौजूदा समय में 7.6 फीसदी सालाना ब्याज मिलता है 21 साल की उम्र तक उन पैसों पर ब्याज मिलता रहेगा। ध्यान रहे, आप जितनी जल्दी अपनी बेटी का सुकन्या समृद्धि अकाउंट में खाता खोलेंगे, उतना ही फायदे में रहेंगे। यहां माना जा रहा है कि बेटी का अकाउंट 2021 में 1 साल की उम्र में खुलवाया जा रहा है, यानी यह 2042 में मेच्योर होगा।

अगर आप हर महीने अपनी बेटी के लिए 5000 रुपये जमा करते हैं, तो आप सालाना उसके लिए 60 हजार रुपये जमा कर पाएंगे। इस तरह 15 सालों में आपका कुल निवेश होगा 9 लाख रुपये का, जिस पर आपको कुल 16,46,062 रुपये का ब्याज मिलेगा। मेच्योरिटी पर आपको 25,46,062 रुपये मिलेंगे।

अगर आप 2,500 रुपये हर महीने जमा करते हैं तो साल भर में आप 30 हजार रुपये जमा कर लेंगे। ऐसे में 15 साल में आपका कुल निवेश होगा 4.5 लाख रुपए का और आपको उस पर 8,23,031 रुपये का ब्याज मिलेगा। मेच्योरिटी पर आपको 12,73,031 रुपये मिलेंगे।

अगर आप हर महीने 1000 रुपये जमा करते हैं तो साल भर में 12 हजार रुपये जमा हो जाएंगे। इस तरह 15 साल में कुल निवेश 1.8 लाख रुपये हो जाएगा। इस पर आपको 3,29,212 रुपये का ब्याज मिलेगा। मेच्योरिटी पर आपको कुल 5,09,212 रुपये मिलेंगे।


प्रधान मंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के लिए अधिकृत बैंक

  • आईडीबीआई बैंक

  • आईसीआईसीआई बैंक

  • आंध्रा बैंक

  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC)

  • इलाहाबाद बैंक

  • ऐक्सिस बैंक

  • इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB)

  • भारतीय स्टेट बैंक (SBI)

  • स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (SBP)

  • स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (SBM)

  • स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर (SBBJ)

  • स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर (SBT)

  • स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (SBH)

  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र (BOM)

  • बैंक ऑफ इंडिया (BOI)

  • कॉर्पोरेशन बैंक

  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (CBI)

  • केनरा बैंक

  • देना बैंक

  • बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB)

  • भारतीय बैंक

  • विजय बैंक

  • पंजाब नेशनल बैंक (PNB)

  • सिंडीकेट बैंक

  • पंजाब एंड सिंध बैंक (PSB)

  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया

  • यूको बैंक

  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया


मैच्योरिटी से पहले किन हालात में सुकन्या समृद्धि योजना खाता बंद किया जा सकता है?

अगर सुकन्या समृद्धि योजना खाता धारक की मृत्यु हो जाये तो डेथ सर्टिफिकेट दिखाकर खाता बंद कराया जा सकता है. इसके बाद सुकन्या समृद्धि योजना खाते में जमा रकम बच्ची के अभिभावक को ब्याज सहित वापस दी जा सकती है. दूसरे मामलों में एसएसवाई खाते को खोलने से पांच साल के बाद बंद किया जा सकता है. यह भी कई परिस्थितियों में किया जा सकता है, जैसे जीवन को खतरे वाली बीमारियों के मामले में. इसके बाद भी अगर किसी दूसरे कारण से खाता बंद किया जा रहा हो तो इसकी इजाजत दी जा सकती है, लेकिन उस पर ब्याज सेविंग एकाउंट के हिसाब से मिलेगा. सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ट्रांसफर सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट देशभर में कहीं भी ट्रांसफर हो सकता है, अगर खाताधारक खाता खोलने की मूल जगह से कहीं और शिफ्ट हो गया हो. अकाउंट ट्रांसफर फ्री ऑफ कॉस्ट है, हालांकि इसके लिए एकाउंट होल्डर या उसके माता-पिता/अभिभावक के शिफ्ट होने का सबूत दिखाना पड़ेगा. अगर इस तरह का कोई सबूत नहीं दिखाया गया तो अकाउंट ट्रांसफर के लिए पोस्ट ऑफिस या बैंक को 100 रुपये फीस चुकाना पड़ेगा जहां खाता खोला गया है. जिस बैंक या पोस्ट ऑफिस में कोर बैंकिंग सिस्टम की सुविधा है, वहां सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ट्रांसफर इलेक्टॉनिक तरीके से हो सकता है.


Conclusion

सुकन्या समृद्धि योजना एक प्रगतिशील भारत के निर्माण की दिशा में एक असाधारण कदम है। कोई इसका उपयोग बालिकाओं की जरूरतों के लिए रखे गए धन के एक हिस्से को निवेश करने के लिए कर सकता है और पूरी तरह इस पर निर्भर नहीं होता है। एक निवेशक अपने फंड को विभाजित कर सकता है और अधिकतम लाभ प्राप्त करने और जोखिम की सीमाओं का प्रबंधन करने के लिए निवेश कर सकता है। FAQ सुकन्या समृद्धि खाता कौन खोल सकता है? किसी भी माता-पिता या उनकी बेटी की ओर से एक बालिका के कानूनी अभिभावक द्वारा खोला जा सकता है। क्या सुकन्या समृद्धि खाता हस्तांतरणीय है? हां, SYY खाते को किसी भी अधिकृत बैंक में स्थानांतरित किया जा सकता है। क्या खाता बीच में बंद किया जा सकता है? नहीं खाता बीच में बंद नहीं किया जा सकता। क्या एक लड़की के नाम पर कई खाते खोले जा सकते हैं? नहीं अधिकतम वार्षिक जमा राशि क्या है? योजना के तहत जमा की जाने वाली अधिकतम राशि प्रति वर्ष 1.5 लाख रुपये है। कितने समय तक खाते में पैसे जमा करने होंगे? 14 वर्ष तक खाते में पैसे जमा किये जा सकेंगे।


Commentaires


bottom of page