top of page

UP Gopalak Yojana 2023 | क्या है गोपालक योजना?

अपडेट करने की तारीख: 25 अक्तू॰ 2023

हर जगह ऐसे कई लोग मिल जाते हैं जो अपने गांव में ही रहकर कुछ बड़ा करना चाहते हैं लेकिन संसाधनों की कमी की समस्या ही उनकी नौकरी या कारोबार में बाधा बनकर सामने आती रहती है. हर किसी के पास इतने पैसे और संसाधन भी नहीं होते कि वह अकेले कोई बिजनेस शुरू कर सके. हालांकि, एक ऐसी योजना भी है


जिसका फायदा उठाकर बहुत से लोग अपने ही गांव में धीरे-धीरे अपना बिजनेस खड़ा कर सकते हैं. उत्तर प्रदेश सरकार ने एक नई योजना यूपी गोपालक योजना 2021 (UP Gopalak Yojana ) की शुरुआत की है. इस योजना के तहत आप अपने ही क्षेत्र में अपना कारोबार शुरू कर सकते हैं.


क्या है गोपालक योजना?
उत्तर प्रदेश सरकार ने इस गोपलक योजना की शुरुआत उन युवाओं के लिए की है, जो बेरोजगार हैं, लेकिन अपने दम पर कुछ करना चाहते हैं. इस योजना के जरिए सरकार अपनी डेरी खोलने के लिए 9 लाख रुपये तक लोन देती है. खास बात यह है कि इस लोन को चुकाने की अवधि सिर्फ एक साल तक नहीं होती, बल्कि आपकी डेरी को कारोबार में होने वाले उतार-चढ़ाव से बचाने के लिए 5 साल में छोटी-छोटी किस्तों में अनुदान भी देती है.


इस योजना के तहत लोन लेने के लिए कुछ शर्तें निर्धारित की गई हैं:


Uttar Pradesh Gopalak Yojana 2023


1. आवदेक के पास कम से कम 5 पशु होने चाहिए. सभी पशु मेले से खरीदे जाने चाहिए और स्वस्थ होने चाहिए ताकि उनका बीमा कराया जा सके.

2. आवेदक की आय सालाना एक लाख रुपये से कम होनी चाहिए.

3. आवेदक उत्तर प्रदेश का रहने वाला होना चाहिए और बेरोजगार होना चाहिए.

इस योजना के तहत लोन लेने के लिए सबसे पहले तो 10 पशुओं के लिए डेढ़ लाख की लागत से डेरी खुद बनानी होगी. इसके बाद उस डेरी में 5 पशु रखने होंगे. अगर आप 5 पशु पालते हैं, तो इसके लिए आपको 1 लाख रुपये का अनुदान मिलेगा और अगर 10 पशु पालते हैं, तो 2 लाख रुपए का अनुदान मिलेगा. ये अनुदान 5 साल तक 20 हजार या 40 हजार के किस्त में दिया जाएगा. इसके अलावा कारोबार के लिए 7.20 लाख को लोन भी दिया जाएगा.



यूपी गोपालक योजना 2023 में आवेदन कैसे करे ?

UP Gopalak Yojana Kaise Milega Loan लोने लेने के लिए सबसे पहले पशु चिकित्सा अधिकारी के पास एप्लिकेशन जमा करानी होती है. अधिकारी आपके आवेदन को मुख्य निदेशालय भेजेगा. जिसके बाद आपके आवेदन का सत्यापन कर लेने के बाद लोन दिया जाएगा.


लोन चुकाने के लिए सरकार ने लोन लेने वाले को एक लंबा समय दिया है. लोन लेने के 6 महीने बाद तक एक भी किस्त नहीं देनी होगी. इसके बाद से लोन लेने वाले व्यक्ति को 60 किस्तों में लोन और ब्याज अदा करना होगा. इसके लिए आपको किसी तरह की कोई मार्जिन मनी नहीं देनी होती है. आपके बाड़े या जमीन को मार्जिन मनी मान लिया जाता है.



इस योजना के बारे में अगर आप और अधिक जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए आप Animal Husbandry Department की ऑफिशियल वेबसाइट animalhusb.upsdc.gov.in/en पर विजिट कर सकते हैं.



Comments


bottom of page