खोज करे

PM Kisan:पीएम किसान सम्मान निधि योजना बेनिफिशियरी लिस्ट 2020

अपडेट किया गया: अक्टू. 17

क्या है PM- KISAN Scheme(PM Kisan Samman Nidhi Yojana)2020

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना पूरी तरह से केंद्र सरकार की योजना है. इसमें 100 फीसदी फंडिंग केंद्र सरकार देती है. यह योजना एक दिसंबर 2018 से प्रभावी है. इस योजना के तहत देश भर के किसानों को हर साल 6 हजार रुपये की सहायता दी जाती है. उन्हें हर चार माह पर दो हजार रुपये की किस्त भेजी जाती है. एक किसान के परिवार में पति, पत्नी और नाबालिग बच्चे शामिल हैं. लाभ योग्य परिवारों की पहचान की जिम्मेदारी पूरी तरह राज्य सरकारों या केंद्र शासित प्रदेश पर है. सहायता राशि सीधे लाभांवित किसानों के खाते में हस्तांतरित की जाती है. इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को स्थानीय पटवारी/ राजस्व अधिकारी या इस योजना के लिए नामित नोडल अधिकारी से संपर्क करना होगा. इस योजना के लिए कॉमन सर्विस सेंटर्स (CSC) पर निर्धारित शुल्क का भुगतान कर किसान अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. कोई किसान pmkisan gov की वेबसाइट पर Farmers Corner में जाकर खुद अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. इसी Farmers Corner में किसान अपने आधार डेटा बेस के आधार पर अपना डेटा अपडेट कर सकते हैं. किसान इस Farmers Corner में ही अपने भुगतान की स्थिति भी जान सकते हैं. पीएम किसान योजना लिस्ट

पीएम किसान सम्मान निधि योजना बेनिफिशियरी लिस्ट

चेक पीएम किसान

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना official website

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना चेक करें

किसान सम्मान निधि योजना ऑनलाइन चेक करें

PM KisanYojana:pmkisan.gov.in status check 2020

पीएम किसान सम्मान निधि योजना बेनिफिशियरी लिस्ट 2020

पीएम किसान सम्मान निधि योजना की लिस्ट कैसे देखें

पीएम किसान लिस्ट

पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) । इस योजना के तहत हर साल योग्य लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में केंद्र सरकार 6,000 रुपये ट्रांसफर करती है। छठी किस्त आने के बाद काफी किसान इस बात से परेशान है कि क्या वह इस स्कीम का फायदा उठा सकते हैं या नहीं? यहां हम आपको पीएम किसान योजना से जुड़े नियम और शर्तें बता रहे हैं कि कौन से किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले सकते हैं।

इन किसानों को मिलेगा पीएम किसान सम्मान निधि योजना का फायदा


आपके नाम होना चाहिए खेत सबसे पहली जरूरी बात तो यह है कि इस योजना का फायदा उठाने के लिए किसान के नाम खेती की जमीन होनी चाहिए। पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने के लिए किसान के नाम खेती की जमीन होनी चाहिए। यदि कोई किसान खेती कर रहा है लेकिन खेत उसके नाम नहीं है, तो वह लाभार्थी नहीं होगा। अगर खेत उसके पिता या दादा के नाम है तो भी पीएम किसान योजना का फायदा नहीं उठा सकते।


सरकारी कर्मचारी नहीं उठा सकते लाभ अगर कोई खेती की जमीन का मालिक  है, लेकिन वह सरकारी कर्मचारी है या रिटायर हो चुका हो, मौजूदा या पूर्व सांसद, विधायक, मंत्री उन्हें पीएम किसान योजना का लाभ नहीं मिलता। इसके अलावा प्रोफेशनल रजिस्टर्ड डॉक्टर, इंजिनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट  या इनके परिवार के लोगों को इस योजना का फायदा नहीं मिलता।

10000 से अधिक पेंशन पाने वाले को नहीं मिलता फायदा अगर कोई व्यक्ति खेत का मालिक है लेकिन उसे 10 हजार रुपये महीने से अधिक पेंशन मिलती है, वह इस योजना के लाभार्थी नहीं हो सकते। आयकर देने वाले परिवारों को भी इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा।

छोटे और सीमान्त परिवारों को लाभ दिशानिर्देशों में छोटे और सीमान्त किसानों को ऐसे किसान परिवार के रूप में परिभाषित किया गया है जिनमें पति, पत्नी और नाबालिग बच्चों के पास संबंधित राज्य या संघ शासित प्रदेश के भूमि रिकॉर्ड के अनुसार सामूहिक रूप से खेती योग्य भूमि दो हेक्टेयर अथवा इससे कम है।

इन्हें नहीं मिल सकता फायदा - जो खेती की जमीन का इस्तेमाल कृषि कार्य की जगह दूसरे कामों में कर रहे हैं।

- गांवों में बहुत से किसान दूसरों के खेतों पर किसानी का काम तो करते हैं लेकिन खेत के मालिक नहीं होते। खेत के मालिक को फसल का कुछ हिस्सा या पैसे देते हैं। ऐसे किसान इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2020.



PM Kisan Samman Nidhi Yojana Status Check Online