UP Agriculture | Kisan Registration Online 2020

UP Agriculture | Kisan Registration Online 2020

उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था का मूल आधार कृषि है तथा लगभग 65 प्रतिशत जनसंख्या कृषि पर आधारित है। प्रदेश के आर्थिक विकास में कृषि क्षेत्र का महत्वपूर्ण योगदान है। वर्ष 2014–15 के आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में लगभग 165.98 लाख हैक्टेयर (68.7%) क्षेत्र में खेती की जाती है। कृषि गणना वर्ष 2010–11 के अनुसार उत्तर प्रदेश में 233.25 लाख कृषक हैं। कृषि की आधुनिक तकनीक का उपयोग कर उत्पादन तथा उत्पादकता में वृद्धि की दिशा में कृषकों की मेहनत एवं प्रयास का ही परिणाम है कि कृषि ने प्रदेश को खाद्य सुरक्षा में आत्मनिर्भर बनाते हुये “आवश्यकता से आधिक्य” की ओर पहुँचाया है।

About UP Agriculture . agriculture statistics dbtagriculture.

वर्ष 2015–16 में 626.64 लाख मै0टन खाद्यान्न उत्पादन लक्ष्य के सापेक्ष 439.47 लाख मै0टन खाद्यान्न उत्पादन हुआ जिसमें खरीफ में 159.12 लाख मै0टन तथा रबी में 280.35 लाख मै0टन खाद्यान्न उत्पादन हुआ इसी प्रकार तिलहनी फसलों में 13.03 लाख मै0 टन के सापेक्ष 8.47 लाख मै0टन (शुद्ध) उत्पादन हुआ।

वित्तीय वर्ष 2016–17 में कृषि विभाग हेतु 5.1 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि दर को बनाये रखते हुये कुल खाद्यान्न 659.49 लाख मै0टन का उत्पादन स्तर प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसके सापेक्ष 539.14 लाख मै0टन खाद्यान्न का अनुमान हैं जिसमें खरीफ के अन्तगर्त 180.25 लाख मै0टन खाद्यान्न उत्पादन प्राप्त हुआ तथा रबी में 355.90 लाख मै0टन खाद्यान्न उत्पादन का अनुमान है। इसी प्रकार तिलहनी फसलों में 14.13 लाख मै0टन (शुद्ध) लक्ष्य के सापेक्ष 10.37 लाख मै० टन का अनुमान है।

वर्ष 2015–16 में कुल 52.26 लाख कु० लक्ष्य के सापेक्ष 45.53 लाख कु० का बीज वितरण किया गया। वर्ष 2016–17 में कुल 55.63 लाख कु० के सापेक्ष 51.06 लाख कु० का बीज वितरण किया गया है। जिसमें खरीफ में 10.87 लाख कु० एवं रबी में 40.53 लाख कु0 बीज वितरण किया गया।

वर्ष 2015–16 में कुल 88.67 लाख मै0टन उर्वरक वितरण लक्ष्य के सापेक्ष 108.39 लाख मै0 टन उर्वरक की उपलब्धता करते हुए 73.64 लाख मै0 टन का वितरण किया गया। वर्ष 2016–17 में कुल 89.50 लाख मै0टन लक्ष्य के सापेक्ष 103.64 लाख मै0 टन की उपलब्धता करते हुए 66.85 लाख कु0 बीज वितरण किया गया। वांछित उत्पादन प्राप्त करने एवं मृदा स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए नत्रजन के साथ-साथ फास्फोरस एवं पोटाश के उपयोग पर विशेष बल दिया गया इससे संतुलित उर्वरक प्रयोग को बढ़ावा मिला है।

pm kisan yojana in up.kisan registration 2020.

वर्ष 2015–16 में कुल 84021.09 करोड़ रू0 फसली ऋण वितरण लक्ष्य के सापेक्ष रू0 66478.89 करोड़ का फसली ऋण वितरण किया गया। वर्ष 2016–17 में रू० 93212.60 करोड़ फसली ऋण वितरण लक्ष्य के सापेक्ष रू0 73271.74 का फसली ऋण वितरण किया गया। जिसमें खरीफ में रू० 30051.07 करोड़ रू० तथा रू० 43220.67 करोड़ का फसली ऋण वितरण किया गया है

वर्ष 2015–16 में 32 लाख किसान क्रेडिट कार्ड वितरण के लक्ष्य के सापेक्ष 34.18 लाख किसान क्रेडिट कार्ड का वितरित किया गया वर्ष 2016–17 में कुल 35 लाख किसान क्रेडिट कार्ड वितरण लक्ष्य के सापेक्ष 34.79 लाख किसान क्रेडिट कार्ड का वितरित किये गये।

DBT Agriculture | farmer registration 2020

UP agriculture,Kisan registration online 2020

up agriculture pm kisan.up agriculture registration 2020.कृषि योजना उत्तर प्रदेश.online farmer registration.up agriculture report.किसान पंजीकरण ऑनलाइन up.किसान अनुदान योजना 2019 up.किसान पोर्टल.कृषि विभाग अधिकारी.किसान app.up agriculture uttar pradesh.uttar pradesh agriculture data.agriculture department gov in.कृषको.रबी फसल डीजल अनुदान.किसान सलाहकार .डीजल अनुदान फॉर्म pdf.कृषि मंत्रालय भारत सरकार.सूखाग्रस्त प्रखंडो के लिये इनपुट सब्सिडी.किसान लाभ.किसान अनुदान योजना 2020 up.भारत सरकार की कृषि योजनाएं 2020

गैलरी कृषि.कृषि यंत्रों पर 20 से 50 प्रतिशत तक अनुदान.मुख्यमंत्री अनुदान योजना ट्रैक्टर 2020 up.कृषि उपकरण सब्सिडी उत्तर प्रदेश.किसान पंजीकरण उत्तर प्रदेश.कृषि विभाग उत्तर प्रदेश 2020.फार्मर रजिस्ट्रेशन.डीबीटी एग्रीकल्चर उत्तर प्रदेश .dbt agriculture india.dbt bihar.dbt agriculture.dbt up.dbt mp

Kisan registration | upagripardarshi.gov.in

up agriculture nic in.agriculture information.up agriculture.registration.agricalchar.kisan registration online.एग्रीकल्चर,dbt portal.krishi vibhag.dbt full form.online farmer registration,dbt agriculture,upagripardarshi.gov.in

organic farming | upagriculture.com

sustainable farming in India

Sustainable agriculture is farming in sustainable ways, which means meeting society's present food and textile needs, without compromising the ability of future generations to meet their needs, what is agriculture,upagriculture.com

यूपी एग्रीकल्चर

एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट

डीबीटी एग्रीकल्चर

एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट बिहार पटना

एग्रीकल्चर रजिस्ट्रेशन

UP agriculture

यूपी एग्रीकल्चर डॉट कॉम

किसान रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन फॉर्म