My Kisan Hindi Blog

  • Admin

Delhi Bhulekh Khasra Khatauni | दिल्ली भूलेख 2021

Delhi Bhulekh Khasra Khatauni | दिल्ली भूलेख 2021 नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए “दिल्ली भूलेख खसरा-खतौनी, जमाबंदी नकल ऑनलाइन” की जानकारी लेके आए हैं। जिसके माध्यम से आप वर्ष 2021 के लिए दिल्ली में अपने क्षेत्र में भूमि रिकॉर्ड के संबंध की जांच कर सकते हैं। दिल्ली सरकार द्वारा अन्य राज्यों की तर्ज पर भूलेख दिल्ली भूमि रिकॉर्ड पोर्टल की शुरुआत की है। प्रदेश सरकार द्वारा राजस्व परिषद के अधीन दिल्ली भूलेख पोर्टल की शुरआत की गयी है। जहाँ दिल्ली के कोई भी व्यक्ति खाता नंबर, खसरा नंबर या अपने नाम के द्वारा भूलेख विवरण निकाल सकता है। जैसा की आप जानते ही हैं भूलेख को कई नामों से जाना जाता है। वास्तव में भूलेख का सही अर्थ है भूमि से संबंधित लिखित रूप में जानकारी।


दिल्ली में अब पूरी तरह दिल्ली भूलेख खसरा-खतौनी, जमाबंदी नकल ऑनलाइन होने के वजह से अब दिल्ली के लोगो की परेशानी पूरी तरह से खत्म हो चुकी है। यदि आपके भूलेख का ब्यौरा ऑनलाइन नहीं है तो आप अपने भूमि रिकॉर्ड की जानकारी को ऑनलाइन रख सकते है। दिल्ली भूलेख खसरा-खतौनी वेबसाइट से ये भी पता लगाया जा सकता है कि किस व्यक्ति के नाम पर कौन सा खाता नंबर हैं? किस भूमि का मालिक कौन हैं? या जमीन उस मालिक नाम पर हैं या नहीं? अब दिल्ली में खरीदार आसानी से किसी भी बाधाओं का सामना किए बिना जमीन के मालिक के बारे में सभी विवरणों की जांच करते हैं। दिल्ली भूलेख कैसे देखा जाता है इसके बारे में विस्तार से जानकारी देते है ताकि आप आसानी से अपना ऑनलाइन भूलेख देख पाओ।


  • सबसे पहले आपको सरकारी वेबसाइट पर जाएं

  • आपको “खसरा खतौनी विवरण” पर क्लिक करना है।

  • आपको लिस्ट में से अपने डिस्ट्रिक्ट, गांव का चुनाव करना है और व्यू रिकॉर्ड पर क्लिक करना है।

  • इसके बाद आपको Village, Khata type विकल्पों का चयन करना पड़ेगा, अब लैंड रिकॉर्ड को ढूंढने के लिए आप किस माध्यम से सर्च करना चाहते हैं उसका चयन करें।

  • खता नंबर के द्वारा

  • खसरा नंबर से

  • नाम से

  • स्क्रीन पर खुले हुए पेज में आपको डिस्ट्रिक्ट, सब डिवीजन, गांव का नाम खाता टाइप का चुनाव करें।

  • images 1

  • जिसके बाद आपका खाता विवरण आपके सामने स्क्रीन पर खुल जाता है।

दिल्ली भूलेख के लाभ

  • दिल्ली में रहने वाले नागरिक अपना दिल्ली भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन आसानी से चेक कर सकते हैं।

  • दिल्ली भूमि रिकॉर्ड किसानो से जुडी सरकारी योजनाओं में उपयोग होता हैं।

  • जमीन के कागजात के द्वारा आप आसानी से किसी भी बैंक से लोन ले सकते हैं

  • दिल्ली भूलेख ऑनलाइन रिकॉर्ड हाथ से फटने के कारण या किसी अन्य चीज में रगड़ से ख़राब नहीं हो सकता।

  • डिजिटलाइजेशन से पहले लोगों को पटवारी से जमीन का रिकॉर्ड हासिल करना था।

  • दिल्ली भूलेख खसरा खतौनी योजना से कालाबाजारी में कमी आएगी।

  • अब दिल्ली में भूमि रिकॉर्ड से सम्बंधित जानकारी कुछ ही मिनटों में निकली जा सकती है।

  • दिल्ली भूलेख ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से आप जमीन रजिस्टर की सारी जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।

दिल्ली भूलेख पोर्टल की विशेषताएं

  • भूलेख पोर्टल को किसी भी समय और किसी भी स्थान पर देखा जा सकता है।

  • इस ऑनलाइन सुविधा के माध्यम से राज्य के सभी लोगों को भूमि का सारा ब्योरा सरलतापूर्वक प्राप्त कर सकते हैं।

  • अपने भूमि रिकॉर्ड के बारे में विवरण राज्य के नागरिक पोर्टल के माध्यम से देख सकते हैं।

  • अपने घर बैठे इंटरनेट के माध्यम ऑनलाइन अपनी भूमि का पूरा विवरण आसानी से देख सकते है।

  • इस पोर्टल के माध्यम से भूमि रिकॉर्ड पर जानकारी जोड़ने और अपडेट करने की प्रक्रिया भी संभव है।

  • अब इससे भूमि से जुडी जानकारी को कहीं से भी देखा जा सकता है।

Conclusion दोस्तो आज के लेख में हमने आप ऑनलाइन दिल्ली भूलेख कैसे देखें के बारे में पूरी तरह से जानकारी दे दी है। हम उम्मीद करते हैं की आपको भूलेख दिल्ली पोर्टल से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं। FAQ भूलेख दिल्ली का उद्देश्य क्या है ? भूलेख दिल्ली उद्देश्य भूमि के विवरण को सुरक्षित रखना है। खसरा नंबर क्या है? जमीन के एक टुकड़े को भूखंड या सर्वेक्षण संख्या दी जाती है, जिसे खसरा नंबर के रूप में जाना जाता है। भूलेख दिल्ली से सम्बंधित समस्या के लिए कहाँ संपर्क करें ? भूलेख से सम्बंधित अन्य कोई समस्या हो तो राजस्व विभाग के कार्यालय में सम्बंधित अधिकारी से संपर्क करें। खतौनी संख्या क्या है? भूमि के एक टुकड़े की खेती को खतौनी संख्या के रूप में जाना जाता है। Bhulekh website link

Uttar Pradesh Bhulekh Khasra Khatauni

Bihar Bhulekh Apna Khata

Madhya Pradeh bhuabhilekh

Rajsthan Apna Khata