My Kisan Hindi Blog

  • Admin

MP E Uparjan 2021: एमपी ई – उपार्जन रबी 2020-21 पंजीयन की जानकारी

मध्य प्रदेश सरकार ने सभी किसानों के लिए MP E-Uparjan रबी फसलों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया है। सरकार द्वारा सन 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से किसानों को दोगुनी आय हो सके।

पिछली बार की तरह इस बार भी पंजीकरण के बाद रबी की फसल किसानों से समर्थन

मूल्य पर खरीदी जाएगी। जो किसान सरकार द्वारा तय मूल्य पर अपनी फसल बेचना चाहते हैं तो उनको आधिकारिक पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा।

इस वर्ष सरकार ने सभी किसानों को घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा उपलब्ध करा दी है। अगर आप मध्य प्रदेश राज्य से हैं किसान परिवार से हैं तो आपके लिए फायदेमंद है।

मध्य प्रदेश इ-उपार्जन - अवलोकन

मध्य प्रदेश इ-उपार्जन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “रबी 2020-21” विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक कर देना है।

  • नए खुले पृष्ठ पर, नीचे दिखाए गए अनुसार "किसान कोड से पंजीयन सम्बंधित जानकारी प्राप्त करें" पर क्लिक करें।

  • फिर ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म 2020-21 नीचे दिखाए गए अनुसार दिखाई देगा।

  • यहां ‘आवेदन / किसान कोड’ या ‘मोबाइल नंबर’ या ‘समग्र नंबर’ दर्ज कर सकते हैं और किसानों के विवरण दर्ज कर सकते हैं।

  • अंत में, आवेदक किसान पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक कर सकते हैं।

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2021 के लाभ

  • ऑनलाइन ई पोर्टल की वजह से समय पर पंजीयन किया जा सकेगा।

  • राज्य के सभी किसान भाई लाभ उठा सकते है।

  • किसानो के समय की बचत के साथ-साथ किसानो की परेशानियों को हल किया जायेगा।

  • फसल बेचने के लिए तीन तारीख बतानी होती हैं।

  • राज्य के किसान मोबाइल पर ऐप डाउनलोड करके भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। यह भी पढ़ें: MP Bhu Abhilekh Naksha 2021

Bihar Apna Khata Jamabandi

जरूरी दस्तावेज

  • बैंक खाता पासबुक

  • आधार कार्ड

  • ऋण पुस्तिका

  • पासपोर्ट साइज फोटो

  • आवास प्रामाण पत्र

  • मोबाइल नंबर

हेल्पलाइन नंबर

आपको किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी सभी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर- 181 ई-मेल आईडी- euparjanmp@gmail.com

Conclusion

ई-उपार्जन से किसानो से अनाज की प्राप्ति के पश्चात, उन्हें अनाज बेचने की रसीद एवं उनके द्वारा बेचे गये अनाज कि राशि सात कार्यालयीन दिवसों में उनके बैंक खाता मे जमा कर दी जायेगी। केन्द्र मे होने वाली अनाज खरीदी की संपूर्ण प्रक्रिया पोर्टल के माध्यम से ही की जायेगी। यदि आवेदन कर रहे हैं और किसी भी कठिनाई का सामना कर रहे हैं तो नीचे टिप्पणी करें। हम आपके प्रश्नों का उत्तर निश्चित रूप से देंगे।

FAQ

MP E Uparjan पोर्टल क्या है?

राज्य के सभी किसान ऑनलाइन पंजीकरण करके न्यूनतम समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेच सकेंगे।

क्या किसानों को पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए बैंक का विवरण आवश्यक है?

हां, आवेदकों को पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए बैंक विवरण प्रस्तुत करना चाहिए।

इस पोर्टल पर पंजीकरण के बाद किन फसलों को बेचा जा सकता है?

ऑनलाइन पंजीकरण के बाद रबी, गेहूं, कुसुम, धान, कपास, सरसों, खरीफ, और प्याज, आदि को बेच सकेंगे।

MP Ration Card List 2021 कैसे देखे

UP Ration Card

Bihar Ration Card

पोर्टल के क्या लाभ हैं?

राज्य के किसानों को प्रदान किए गए सभी लाभ। सरकार का उद्देश्य खरिफ और रब्बी फसल के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रदान करना है।