top of page

Kisan Vikas Patra Yojana:किसान विकास पत्र का उद्देश्य,फायदे,पात्रता, ब्याज और रिटर्न क्या है?

किसान विकास पत्र क्या है?


किसान विकास पत्र एक प्रकार की सेविंग स्कीम है, जिसके अंदर जो भी व्यक्ति अपना अकाउंट ओपन करके अपने पैसे डालता है वह पैसे उसे एक निश्चित साल के बाद दुगना हो करके वापस प्राप्त होते हैं। इस पत्र को आप चाहे तो डाकघर से भी खरीद सकते हैं या फिर आप बैंक में भी इस योजना के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

Kisan Vikas Patra:किसान विकास पत्र का उद्देश्य,फायदे,पात्रता, ब्याज और रिटर्न क्या है?
Kisan Vikas Patra:किसान विकास पत्र का उद्देश्य,फायदे,पात्रता, ब्याज और रिटर्न क्या है?

इस योजना के तहत आवेदक को कुल 124 महीने तक पैसे डालने होते हैं और 124 महीने कि अवधि पूरी होने के बाद उसने जितने पैसे योजना में इन्वेस्ट किए होते हैं उसके डबल पैसे उसे वापस प्राप्त होते हैं। कई लोगों को यह कंफ्यूजन है कि इसमें किसान शब्द जुड़ा हुआ है इसलिए यह योजना किसानों के लिए है परंतु ऐसा नहीं है।


इसमें कोई भी सामान्य नागरिक अपने पैसे इन्वेस्ट कर सकता है। बता दें कि केबीपी सर्टिफिकेट किसान विकास पत्र योजना के लिए खरीदना जरूरी है जिसकी कीमत ₹1000 है। अगर कोई व्यक्ति इसमें एक बार में 50,000 से ज्यादा रुपए इन्वेंट करता है तो उसके लिए पैन कार्ड सबमिट करना अनिवार्य होगा।


किसान विकास पत्र का उद्देश्य क्या है?


इस योजना का प्रमुख उद्देश्य लोगों के बीच में सेविंग की भावनाओं को बढ़ाना है, ताकि वह अपने पैसे को सही जगह पर इन्वेस्ट करें और बिना किसी जोखिम के अपने पैसे को बढ़ते हुए देखें। किसान विकास पत्र में इन्वेस्ट करने के कारण व्यक्ति के पास कुछ ही सालों में एक अच्छा खासा फंड तैयार हो जाता है जिसका इस्तेमाल वह अपने किसी व्यक्तिगत काम के लिए कर सकता है।



किसान विकास पत्र के फायदे क्या है?


  • इस योजना में जितने भी पैसे आप डालते हैं वह इन्वेस्टिंग के टाइम के पूरा होने के बाद दुगना हो कर आपको वापस मिलता है।

  • अगर आपके पास ₹1000 हैं तो आप उससे भी इस योजना में पैसे डालना चालू कर सकते हैं, क्योंकि इस योजना में कम से कम निवेश की रकम ₹1000 है।

  • आप इस योजना का फायदा पोस्ट ऑफिस से भी प्राप्त कर सकते हैं और बैंक से भी प्राप्त कर सकते हैं।

  • अगर आपने इस योजना को बैंक अकाउंट में चालू किया है तो आप उसे किसी दूसरी बैंक के अकाउंट में भी ट्रांसफर कर सकते हैं और अगर आपने इस योजना को पोस्ट ऑफिस से चालू किया है तो आप उसे किसी दूसरी पोस्ट ऑफिस की ब्रांच में भी ट्रांसफर कर सकते हैं।

  • इस योजना से आप अपने पैसे कभी भी निकाल सकते हैं परंतु अगर कोई व्यक्ति योजना चालू होने के 1 साल के अंदर ही अपने पैसे निकालता है तो उसे कोई भी ब्याज नहीं मिलेगा, साथ ही उसे कुछ राशि जुर्माने के तौर पर भरनी पड़ सकती है।

  • किसी बैंक या फिर प्राइवेट इंस्टिट्यूट से लोन लेने के दरमियान आप किसान विकास पत्र का यूज कर सकते हैं।


किसान विकास पत्र के लिए पात्रता क्या है?

  • वही व्यक्ति किसान विकास पत्र योजना के लिए पात्रता रखता है, जो स्थाई भारतीय नागरिक है।

  • 18 साल से ज्यादा उम्र के जो सभी लोग इस योजना के लिए पात्रता रखते हैं।


किसान विकास पत्र के लिए दस्तावेज क्या है?

• निवास प्रमाण पत्र

• केवीपी एप्लीकेशन फॉर्म

• आयु प्रमाण पत्र

• पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

• मोबाइल नंबर


किसान विकास पत्र के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें?


1: इस योजना के लिए अप्लाई करने के लिए आपको उस बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस की ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करना है जिस पर आप इसे अप्लाई करना चाहते हैं।


2: वेबसाइट के होम पेज पर आपको इन्वेस्टमेंट प्लान का जो लिंक दिखाई देगा, आपको उसके ऊपर क्लिक कर देना है।


3: अब दिखाई दे रहे किसान विकास पत्र योजना के लिंक पर आपको क्लिक कर देना है।


4: अब जो एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर आया है उसमें मांगी गई सभी जानकारी भरें।


5: जानकारी भरने के बाद डॉक्यूमेंट को अटैच करें।


6: डॉक्यूमेंट अटैच करने के बाद सबमिट कर दें।


इस प्रकार ऑनलाइन एप्लीकेशन ही प्रोसेस पूरी होती है।



किसान विकास पत्र के लिए ऑफलाइन अप्लाई कैसे करें?


1: जिस बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस की ब्रांच में आप इस योजना के लिए अप्लाई करना चाहते हैं वहां पर जाएं।


2: काउंटर से इस योजना का एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त करें।


3: जो भी इंफॉर्मेशन एप्लीकेशन फॉर्म में मांगी गई है उसे सही-सही भरें।


4: आवश्यक इंफॉर्मेशन को भरने के बाद आवश्यक दस्तावेज को अटैच करें।


5: दस्तावेज अटैच कर देने के बाद पोस्ट ऑफिस या फिर बैंक की ब्रांच में इसे जमा कर दें।


इस प्रकार आप ऑफलाइन किसान विकास पत्र योजना में अप्लाई कर सकते हैं।


किसान विकास पत्र योजना में ब्याज और रिटर्न क्या है?

आज के टाइम में इस योजना के अंतर्गत महीने की ब्याज दर 6.9 परसेंट है। जब आपके निवेश की अवधि पूरी हो जाएगी जो की टोटल 124 महीने की होती है, तब आपको आपके द्वारा निवेश किए गए रकम डबल हो करके आपको वापस मिलेगी।


FAQ:



Q: किसान विकास पत्र में हमें कितने सालों तक इन्वेस्ट करना पड़ता है?


Ans: इस योजना में आपको कुल 10 वर्ष और 4 महीने तक अपने पैसे इन्वेस्ट करने पड़ते हैं।


Q: अगर कोई व्यक्ति किसान विकास पत्र योजना को चालू करने के बाद 1 साल पूरे होने के पहले ही अपने पैसे निकालता है तो क्या उसे ब्याज दर मिलेगी?


Ans: नहीं, अगर कोई व्यक्ति ऐसा करता है तो उसे उसके द्वारा इन्वेस्ट किए गए पैसे पर कोई भी ब्याज नहीं मिलेगा।


Comments


bottom of page